मुख्य समाचारवर्ल्ड
Trending

जेल में बंद ईरानी कार्यकर्ता नरगेस मोहम्मदी ने नोबेल शांति पुरस्कार जीता

नोबेल पुरस्कार वेबसाइट के अनुसार, नरगेस मोहम्मदी को 13 बार गिरफ्तार किया गया, पांच बार दोषी ठहराया गया और कुल 31 साल जेल और 154 कोड़े की सजा सुनाई गई।

वर्ल्ड : ईरानी मानवाधिकार कार्यकर्ता नर्गेस मोहम्मदी को महिलाओं के उत्पीड़न के खिलाफ लड़ाई के लिए नोबेल शांति पुरस्कार 2023 से सम्मानित किया गया है। नोबेल शांति पुरस्कार जीतने वाली 19वीं महिला बनने के कारण वह जेल में हैं।

नॉर्वेजियन नोबेल समिति ने घोषणा की :

“ईरान में महिलाओं के उत्पीड़न के खिलाफ लड़ाई और सभी के लिए मानवाधिकारों और स्वतंत्रता को बढ़ावा देने की उनकी लड़ाई के लिए नॉर्वेजियन नोबेल समिति ने नर्गेस मोहम्मदी को 2023 का नोबेल शांति पुरस्कार देने का फैसला किया है।” इस पुरस्कार की कीमत 11 मिलियन स्वीडिश है। ताज (लगभग 1 मिलियन डॉलर) 10 दिसंबर को अल्फ्रेड नोबेल की पुण्य तिथि पर ओस्लो में प्रदान किए जाएंगे, जिन्होंने 1895 में अपनी वसीयत में पुरस्कारों की स्थापना की थी। सुश्री मोहम्मदी ईरान में अग्रणी मानवाधिकार कार्यकर्ताओं में से हैं, जो सबसे खराब देशों में से एक है। महिला अधिकार। नैतिकता पुलिस की हिरासत में एक युवा कुर्द महिला माहसा अमिनी की हत्या के बाद देश में हिंसक विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए थे।

नोबेल पुरस्कार वेबसाइट ने कहा :

नोबेल पुरस्कार विजेता को 13 बार गिरफ्तार किया गया, पांच बार दोषी ठहराया गया और कुल 31 साल जेल और 154 कोड़े की सजा सुनाई गई, “उनके बहादुर संघर्ष के लिए जबरदस्त व्यक्तिगत लागत चुकानी पड़ी।”

“नर्गेस मोहम्मदी एक महिला, मानवाधिकार समर्थक और एक स्वतंत्रता सेनानी हैं। उन्हें इस साल का नोबेल शांति पुरस्कार देकर, नॉर्वेजियन नोबेल समिति ईरान में मानवाधिकारों, स्वतंत्रता और लोकतंत्र के लिए उनकी साहसी लड़ाई का सम्मान करना चाहती है।” वेबसाइट। रिपोर्टों से पता चलता है कि वह अब तेहरान की एक जेल में उन आरोपों के लिए कई सजा काट रही है जिनमें राज्य के खिलाफ प्रचार करना शामिल है। सुश्री मोहम्मदी शिरीन इबादी के नेतृत्व वाले एक गैर-सरकारी संगठन, डिफेंडर्स ऑफ ह्यूमन राइट्स सेंटर की उप प्रमुख भी हैं। , 2003 नोबेल शांति पुरस्कार विजेता।

Saba Khan

हमारा उद्देश्‍य देश और दुनिया के लोगों को वास्तवविकता से अवगत कराना, विशेष रूप से राजनीतिक खबरों पर पैनी नजर और समसामयिक घटनों का विष्लेषण एवं अपराध समाचारों को सब से पहले आपतक पहुँचाना हमारी जिम्मेदारी
Back to top button